राहुल गांधी चीन मसले पर लगातार कर रहे हैं कूर्सी की राजनीति, फिर लिखा देश विरोध में

जैसा की आप सबको पता है भारत और चीन के बीच अभी तनाव जैसी स्थिति बनी हुई है और इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार देश विरोधी और सरकार विरोधी बयान दे रहे हैं। आपको बता दें कि फिर से एक बार राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि चीन ने हमारे सैनिकों को मारा और जमीन छीन ली इतने टकराव के बाद भी नरेंद्र मोदी की तारीफ चीन क्यों कर रहा है ?आपको बता दें कि राहुल गांधी ने एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए यह यह ट्वीट की ।जहां इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पूर्व बयान ट्वीट करते हुए सरकार को निशाने पर लिया था



क्या कहा था पहले कांग्रेस नेता ने :-
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा था कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह की महत्वपूर्ण सलाह भारत की भलाई के लिए, मैं आशा करता हूं कि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनकी बात को विनम्रता से मानेंगे।

आपको बता दें कि मनमोहन सिंह ने अपने बयान में कहा था कि आज हम इतिहास के एक नाजुक मोड़ पर खड़े हैं हमारी सरकार के निर्णय व सरकार द्वारा उठाए गए कदम तय करेंगे कि भविष्य की पीढ़ियां हमारा आकलन कैसे करें। जो देश का नेतृत्व कर रहे हैं उनके कंधों पर कर्तव्य का गहन दायित्व है। हमारे प्रजातंत्र में यह दायित्व देश के प्रधानमंत्री का है, प्रधानमंत्री को अपने शब्दों व ऐलानों द्वारा देश की सुरक्षा एवं सामरिक व भूभागीय हितों पर पड़ने वाले प्रभाव के प्रति सदैव बेहद सावधान होना चाहिए।



मनमोहन सिंह का तात्पर्य क्या है :-
यानी मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके कर्तव्यों के साथ साथ ऐसे मसलों पर और बयानों पर भी ध्यान देने की नसीहत दे डाली। आपको बता दें कि चीन पर सर्वदलीय बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो बयान दिया था उस पर कई नेताओं ने सवाल खड़े किए थे। यहां तक की प्रधानमंत्री कार्यालय को इस पर सामने आकर सफाई देनी पड़ी थी। आपको बता दें कि यह सिर्फ और सिर्फ कुर्सी की राजनीति की विचारधारा है ।

जहां एक तरफ चीन में चीन के लोग और वहां के पक्ष विपक्ष के सभी लोग अपने देश का साथ दे रहे हैं वही भारत में कुछ ऐसे नेता भी हैं जो देश विरोधी तथा सरकार विरोधी बातें कर रहे हैं सिर्फ और सिर्फ कुर्सी की राजनीति के लिए। हैरानी वाली बात तो यह है कि देश विरोधी और सरकार विरोधी बात वह लोग कर रहे हैं जिनके कार्यकाल में जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख का हिस्सा पाकिस्तान और चीन के हिस्से में चला गया



यहां देखे ट्वीट  :-




ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
  





आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


Reactions