Default Image

Months format

View all

Load More

Related Posts Widget

Article Navigation

Contact Us Form

404

Sorry, the page you were looking for in this blog does not exist. Back Home

Ads Area

धर्म की जय हो

View allअभी अभी »

सबसे ज्यादा पढ़ा गया

महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में 3263 सीटों के साथ BJP सबसे बड़ी पार्टी, ठाकरे की MNS को मात्र 31 सीट

महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में भाजपा को जहाँ 3263 सीटें मिली हैं, वहीं शिवसेना 2808 पर आकर रुक गई। शरद पवार की NCP दूसरे नंबर की पार्टी बन कर उभरी, जिसकी सीटों की संख्या 3000 से मात्र 1 कम रही। कॉन्ग्रेस भी 2151 सीटें जीतने में कामयाब रही। राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का प्रदर्शन बहुत ही बुरा रहा और पार्टी को 31 सीटों से संतोष करना पड़ा। अन्य के खाते में 2510 सीटें गईं।

अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव क्यों नहीं पहनती मंगलसूत्र और लगाती माथे में सिंदूर?

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है भारत आइडिया में, दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं डिंपल यादव के बारे में जो कि अखिलेश यादव की धर्मपत्नी तथा कर्नौज की संसद को आपने अक्सर देखा होगा की सार्वजनिक स्थानों पर या सार्वजनिक कार्यक्रमों में अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव जो कि धर्म अनुसार हिंदू हैं पर कभी भी अपने गले में मंगलसूत्र और सर पर सिंदूर नहीं लगाती आखिर क्यों. दोस्तों हम आपको बता दें डिंपल यादव के ऐसा ना करने के पीछे एक बहुत बड़ा कारण है और वह कारण कुछ और नहीं बल्कि वोट की राजनीति है, जैसा की आप सबको पता है मुलायम सिंह यादव तथा उनके सुपुत्र अखिलेश यादव हमेशा से ही धर्म की राजनीति करते आए हैं और मुसलमानों को रिझाने की कोशिश करते हैं बस उसी रास्ते पर डिंपल यादव भी चल रही है और मुसलमानों के वोट को रिझाने की कोशिश कर रही है. डिंपल यादव की वोट की राजनीति कुछ ऐसी है कि जब भी वह मुस्लिम बहुल इलाकों में जाती हैं तो अपने गले में मंगलसूत्र और माथे में सिंदूर नहीं लगाती हैं और वही अगर डिंपल यादव को हिंदू बहुल इलाके में जाना हो तो वह अपने गले में मंगलसूत्र तथा माथे में सिंदूर

नीरज चोपड़ा के गोल्ड मेडल जीतते ही क्यूं राजीव गांधी पनौती के रूप में ट्विटर पर ट्रेंड करने लगे ?

जैसा कि हम जानते हैं टोक्यो ओलंपिक में नीरज चोपड़ा ने स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। आपको बता दें कि 2008 में बीजिंग ओलंपिक के बाद भारत को यह पहला गोल्ड मेडल प्राप्त हुआ है, जहां एक तरफ नीरज चोपड़ा को पुरा देश इस गौरवान्वित क्षण लिए सोशल मीडिया पर बधाई दे रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर कुछ यूजर्स नीरज चोपड़ा द्वारा जीते गए स्वर्ण पदक के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद कर रहा है। क्यूं राजीव गांधी को पनौती कहा जा रहा है : आपको बता दो कि माननीय प्रधानमंत्री ने बीते दिन शुक्रवार 6 अगस्त को बड़ा फैसला लेते हुए घोषणा की थी कि अब से राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार को ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा, ऐसे में प्रधानमंत्री द्वारा खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलने के अगले ही दिन भारत की झोली में स्वर्ण पदक आना यूजर्स को मौका दे गया की वो राजीव गांधी को फिर से एक बार ट्रॉल कर सके। ट्विटर पर एक प्रिया क्षेत्री नाम की यूजर ने लिखा की ”भारत के नीरज चोपड़ा ने खेल रत्न का नाम बदलते ही गोल्ड मेडल जीत लिया। पुराने नाम में ही पनौती थी। नरेंद्र मोदी जी आपका राजीव गाँधी खेल रत्न का न

कौन थे राहुल के पूर्वज, जाने राहुल की 10 पीढ़ियों की सच्चाई.

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आईडिया में, तो दोस्तो आज बात करने वाले हैं राहुल गांधी के बारे में जिनके बारे में अक्सर ये पूछा जाता है कि वह किस धर्म के हैं वह कि जात के हैं. तो आइये हम जानते  हैं इनके पूर्वजों के नाम के बारे में और इनकी जात के बारे में. क्या है धर्म राहुल गांधी का  : जैसा कि हम सब कोई जानते हैं राहुल गांधी जी के पिता का नाम राजीव गांधी था, जो कि इंदिरा गांधी के छोटे पुत्र थे.वही अगर हम बात करें इंदिरा गांधी के पति के बारे में उनका नाम फिरोज खान था . जैसा कि हम सब जानते हैं किसी भी धर्म में  वंश का नामकरण  पिता के नाम पे पड़ता है. इस लिहाज  से देखा जाए तो राहुल गांधी मुस्लिम धर्म से तालुकात रखते हैं. पर फिरोज गांधी ने अपना नाम बदलकर अपनी पत्नी इंद्रा गांधी का सरनेम लगा लिया था.इस लिहाज से राहुल गांधी हिंदू कहलाते है. राहुल गांधी के पूर्वज कौन थे : राहुल गांधी के नाना जवाहर लाल नेहरू के दादा अपने नाम के बाद कौल लगाते थे, उनका नाम गंगाधर था और वह जब भी अपना पूरा नाम लिखते थे तो गंगाधर कौल ही लिखते थे.जवाहरलाल और उनके पिता मोतीलाल अपने नाम क

साबिर और परवेज ने दोस्तो के साथ मिलकर महिला का अश्लील वीडियो बनाया फिर वायरल किया

आपको बता दें कि हरियाणा से फिर एक बार शर्मनाक घटना सामने आई है, जहां एक दंपत्ति को अपहरण करके महिला के साथ छेड़छाड़ की गई। फिर उसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। पुलिस ने अभी तक इस घटना में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। क्या है पूरा मामला : आपकी जानकारी के लिए बता दे की यह घटना हरियाणा के नूँह जिले में घटित हुई है, जहां 27 जुलाई 2021 को पति पत्नी बाइक से अपने खेत पर जा रहे थे। इसी दौरान चार युवकों जिनके नाम साबिर, निजरू, अनीस और परवेज ने उनका रास्ता रोक लिया। जिसके बाद दंपत्ति को एक जंगली इलाके में ले जाया गया, जहां इन चारों ने दंपत्ति के साथ लूटपाट की और महिला के साथ छेड़खानी करने के बाद उसका वीडियो बना लिया। 2 दिन बाद आरोपियों ने किया वीडियो वायरल : 2 दिन बाद इन चार आरोपियों ने दंपत्ति के मोबाइल पर कॉल कर वीडियो को वायरल करने की धमकी देते हुए ₹30000 की फिरौती मांगी। हालांकि जब दंपत्ति ने फिरौती देने से इंकार कर दिया तो चारों आरोपियों ने सोशल मीडिया पर महिला का वीडियो अपलोड कर वायरल कर दिया। जिसके बाद दंपत्ति ने रोजका मेव थाने में इस घटना की शिकायत दर्ज करवाई। रोजका म

पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ सीपी ठाकुर जी के बड़े पुत्र श्री दीपक ठाकुर जी बिहार के उभरते हुए सितारे / Shri Deepak Thakur, the eldest son of former Union Health Minister Dr. CP Thakur ji, emerging stars of Bihar

आज हम बात करने जा रहे हैं केंद्र में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर सीपी ठाकुर जी के बड़े सुपुत्र दीपक ठाकुर जी के बारे में: बिहार: दीपक ठाकुर एक ऐसा नाम जो कि बिहार में बड़े ही प्रसिद्ध नामों में अब गिना जा रहा है। लोग इनके कार्यशैली को पसंद कर रहे हैं। अब वह दिन दूर नहीं जब पूरे भारत में दीपक जी का नाम जाना जाएगा अगर वह निरंतर ऐसे ही काम करते रहे तो। दीपक ठाकुर जी अभी हाल-फिलहाल में बिहार के मुजफ्फरपुर में दंडीस्वामी सहजानंद सरस्वती की पुण्यतिथि पर एक भव्य कार्यक्रम होने जा रहा है जिसमें की मुख्य अतिथि के तौर पर बिहार के राज्यपाल महामहिम श्री सत्यपाल मलिक जी का आगमन होने वाला है। जो कि दीपक ठाकुर जी के लिए आयोजनकर्ता के तौर पर बहुत प्रेरणादाई साबित होने वाला है। दीपक जी मैं खास बात यह रहा है कि वह बड़े से बड़े कार्यक्रम या छोटे से छोटे कार्यक्रम में जा कर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाते हैं और गरीबो के बीच जा कर यह विस्वास दिलाते हैं जिससे की गरीब परिवारों का यह भ्रम टूट सके की बड़े-बड़े लोग हमारे घर नहीं पहुंचते हैं। दीपक जी का ज्यादातर समय समाज के कार्यों में गुजरता है और व

तुरंत हो जाए सावधान गूगल पर भूल से भी ये चीजें न करे सर्च, हो जाए सावधान

अगर आज आपको कुछ सवाल होता है या कुछ सर्च करना होता है तो आप सीधा गूगल से पूछते हैं। गूगल पर कई बार लोग बहुत ही अजीबो-गरीबो चीज सर्च करने लगते हैं। यदि आप भी किसी सवाल में फंसने के बाद गूगल का सहारा लेते हैं। गूगल पर इन चीजों को सर्च ना करे। बम बनाने का तरीका न खोजें : गूगल सर्च के दौरान ऐसी कुछ चीजें हैं, जिन्हें बिल्कुल भी सर्च नहीं करना चाहिए। इन चीजों को सर्च करके आप बहुत बड़ी मुसीबत में फंस सकते हैं। इन्हें सर्च करके आपको जेल भी जाना पड़ सकता है। कभी भी गूगल पर बम बनाने का तरीका सर्च न करें। अगर आपने ऐसा कुछ सर्च कर लिया तो आपको जेल भी जाना पड़ सकता है।दरअसल, जैसे ही आप बम बनाने का तरीका गूगल पर सर्च करते हैं, तो कंपनी आपका आईपी एड्रेस सुरक्षा एजेंसियों को भेज सकती है।इसके बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो जाती हैं। अगर सुरक्षा एजेंसियों को इसमें खतरा लगा तो वह आपके खिलाफ तुरंत कार्रवाई कर सकती हैं।इसके बाद आपको जेल भी जाना पड़ सकता है। दवाईयां न खोजें : कभी भी गूगल पर दवाईयां न खोजें. अगर आपकी तबीयत खराब है तथा आप गूगल सर्च के जरिए दवाईयों का पता लगाकर खा लेते हैं तो आप गंभीर बीमार प

अधर्म का विनाश हो

राजनितिक चर्चा

उत्तरप्रदेश चुनाव