इजराइल का दावा बना ली है कोरोना की दवाई, करेंगे बड़े पैमाने पर उत्पादन पढ़े रिपोर्ट

अपनी विज्ञान के लिए प्रसिद्ध दुनिया के शक्तिशाली देशों में से एक इसराइल ने दावा किया है कि, उसने कोरोना वायरस की महामारी का वैक्सीन बना लिया है और यह दावा किसी और ने नहीं बल्कि इजरायल के रक्षा मंत्री नैफताली बेन्नेट ने किया है। रक्षा मंत्री ने दावा किया है कि इसराइल इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल रिसर्च यानी आईआईबीआर कोरोना वायरस की एंटीबॉडी विकसित करने में पूर्ण तरीके से सफलता हासिल कर ली है। रक्षा मंत्री का कहना है कि संस्थान ने एंटीबॉडी बना ली है अब वैक्सिन के विकास का स्टेज पूरा हो चुका है। सो अब इसके पेटेंट और बड़े पैमाने पर उत्पादन की तैयारी शुरू हो चुकी है।आपको बता देगी आईआईवीआर इजरायल का बेहद गुप्त संस्थान है। यहां पर जो भी प्रयोग किए जाते हैं उसकी जानकारी बाहरी दुनिया को नहीं मिल पाती। यह काफी गुप्त संस्थान है,लेकिन जब खुद रक्षा मंत्री ने इस बात का दावा किया है तो उनकी बात को झुठला पाना मुश्किल है।



आईआईबीआर देश के रक्षा मंत्रालय के अधीन आता है :-
रक्षा मंत्री ने बताया कि या एंटीबॉडी मोनोक्लोनल तरीके से * वायरस पर हमला करती है तथा बीमार लोगों के शरीर के अंदर ही पूर्णा वायरस को खत्म कर देती है जिसके बाद वायरस शरीर के अन्य हिस्सों में तथा दूसरे शख्स में नहीं फैल पाता।आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसराइल इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल रिसर्च यानी आईआईबीआर देश के रक्षा मंत्रालय के अधीन आता है और यही कारण है कि रक्षा मंत्री ने इसकी जानकारी सबसे पहले दी। रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि हम इस पर बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए दुनिया भर की कंपनियों से बात करेंगे, हालांकि रक्षा मंत्री ने यह नहीं बताया कि इस वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल या ह्यूमन ट्रायल हुआ है या नहीं।



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
  





आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


Reactions