Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

मोदी सरकार की ये रही फाइनल लिस्ट, देखे किस किस ने ली शपथ ...




इंतजार की घडिय़ां खत्म। मोदी सरकार-पार्ट -2 का चेहरे तय हो गए हैं। यूपी से राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी के साथ-साथ संजीव बालियान, संतोष गंगवार, वीके सिंह, महेश शर्मा, अनुप्रिया पटेल का नाम है। सभी को फोन पर कुछ देर पहले सूचना भेजी गई है। शपथ ग्रहण शाम सात बजे राष्ट्रपति भवन के लॉन में होगा। इसी के साथ यूपी से साध्वी निरंजन ज्योति, मुख्तार अब्बास नकवी, रीता बहुगुणा जोशी, मेनका गांधी, पीयूष गोयल (राज्यसभा सांसद) को भी जिम्मेदारी मिलेगी। यूपी के इतर प्रदेशों की बात करें तो चौंकाने वाला नाम सुषमा स्वराज है, जिन्होंने चुनाव लडऩे से इंकार कर दिया था। इसके अलावा राजस्थान के थावरचंद गहलौत, कर्नाटक के सदानंद गौड़ा, महाराष्ट्र्र के नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण समेत कई नामों को मंत्रीपद के लिए सार्वजनिक कर दिया गया है। खबर है कि नई सरकार का गृहमंत्री, वित्तमंत्री, ऊर्जा मंत्री, ग्रामीण विकास मंत्री, महिला कल्याण मंत्री, रक्षा राज्यमंत्री जैसे अहम महकमों की जिम्मेदारी यूपी के हिस्से आएगी। नई सरकार में यूपी से चार महिलाओं को बतौर मंत्रीपद प्रतिनिधित्व मिलने पर मुहर भी लग चुकी है।




मोदी कैबिनेट के संभावित नामों में सबसे ज्यादा यूपी के नाम हैं, इसके बाद बिहार का नंबर है। गुजरात, मध्यप्रदेश, राजस्थान के साथ-साथ पश्चिम बंगाल के सांसदों को मोदी कैबिनेट में स्थान मिलना तय है। अनुमान है कि मोदी कैबिनेट में इस बार 20 से ज्यादा नए चेहरों को जगह मिलेगी। सूत्रों पर भरोसा करें तो मोदी कैबिनेट में इस बार 50 से ज्यादा सांसदों को जगह मिलने का अनुमान है। लंबे समय से बीमार चल रहे वरिष्ठ भाजपा नेता और राज्यसभा सदस्य अरुण जेटली इस बार मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं होंगे। उन्होंने पीएम को पत्र लिखकर सूचना भेजने के बााद ट्वीटर के जरिए भी जानकारी को सार्वजनिक किया है। उन्हें मनाने की कोशिश नाकाम रही हैं।




महाराष्ट्र से नितिन गडकरी के अलावा प्रकाश जावडेकर, सुरेश प्रभु हैं, जबकि बिहार से रविशंकर प्रसाद, रामविलास पासवान, रामनाथ ठाकुर, रामकृपाल यादव, गिरिराज सिंह और आरके सिंह। इसी प्रकार झारखंड से जयंत सिन्हा, संजय सेठ का नाम पक्का किया गया है, जबकि पंजाब से हरसिमरत बनेंगी। राजस्थान से गजेंद्र सिंह शेखावत, राज्यवर्धन राठौर और कैलाश मेघवाल को चुना गया है, जबकि दिल्ली से डॉ हर्षवर्धन। मध्य प्रदेश से नरेंद्र सिंह तोमर, थावरचंद गहलोत को फोन किया गया है, जबकि पश्चिम बंगाल से बाबुल सुप्रियो को केंद्रीय मंत्रीमंडल में स्थान मिला है। ओडिसा से बसंत पांडा, जुएल ओराँव और धर्मेंद्र प्रधान, अरुणाचल प्रदेश से किरेन रिजिजू, गुजरात से अमित शाह, पुरूषोत्तम रुपाला और सी आर पाटिल के नाम तय हुए हैं।




Breaking News
Loading...
Scroll To Top