• ताज़ा खबर

    कुछ लोग इतने बिगड़ैल होते है, या फिर हम कह सकते है की कुछ लोग ऐसे होते है जो खाते तो देश का है लेकिन बाहर जाकर देश की बुराई करते है, ऐसा ही कुछ हाल राहुल गाँधी का है जोकि एक भी मौका नहीं छोड़ते देश को बदनाम करने के लिए। हमने आजादी के समय से देखा है की गाँधी परिवार ने सिर्फ और सिर्फ कुर्शी से प्यार किया है न की देश से।

    दरअसल बात ऐसी है की अभी राहुल गाँधी इंग्लैंड में है और वहाँ उन्होंने एक कॉन्फ्रेंस में ये कहा की भारत में बीजेपी और आरएसएस कट्टरपंथी मुस्लिम संगठन ब्रदरहूड की तरह है, आपको हम बता दे की ब्रदरहुड एक आतंकवादी संगठन है। अब भला राहुल गाँधी को कौन समझाए की वो कहाँ बोल रहे है और किनसे बोल रहे, राहुल गाँधी के अनुसार देश ने एक आतंकवादी संगठन की मानसिकता वाली पार्टी को चुना है वैसे अभी कुछ दिन पहले ही कांग्रेस के नेता और खुद राहुल गाँधी ने स्वर्गीय अटल जी की तारीफ़ की थी की उनसे बेहतर राजनेता भारतीय राजनीती में नहीं हो सकता, तो अब राहुल गाँधी को ये कौन बताये की अटल जी भी संघ से ही जुड़े हुए थे।

    बहराल जो भी हो राहुल गाँधी को को एक अंतर्राष्ट्रीय मंच पर झूठ बोलना सोभा नहीं देता भले ही वो इस झूठ से तो अपनी राजनीती चमका लेंगे लेकिन देश का चरित्र विश्व की नजर में गिरा देंगे। राहुल गाँधी को अपनी इस झूठ के लिए जरूर से जरूर माफ़ी मांगना चाहिए

    #Kerala RSS स्वयंसेवक अनूप दिव्यांग होने के बावजूद केरल के चेंगन्नूर में बाढ़ पीड़ितों की सहायता कर रहे थे, उनके साथ कल रात बुरी तरह मार पीट गया और उनकी आर्टिफिशियल टांगों को भी तोड़ दिया गया । इसी लिए कहते हैं साँप को दूध नहीं पिलाना चाहिये सोच कर देखिये rss के कार्यकर्ता के जगह कोई मुसलमान होता तो पुरा विपक्ष मीडिया और बुधिजीवि बुर्क़ा खोल के नाच रहे होते