शशि थरूर का एक और विवादित बयान पूछा गांधी की प्रतिमा क्यों नहीं बनाई.


नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में, दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं शशि थरूर के बारे में जिन्होंने स्टैचू ऑफ यूनिटी पर एक आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी ने महात्मा गांधी की स्टैचू क्यों नहीं बनाई.

शशि थरूर का एक और विवादित बयान पूछा गांधी की प्रतिमा क्यों नहीं बनाई.

क्या है मामला:
जी हां दोस्तों आपने सही सुना कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी से स्टैचू ऑफ यूनिटी पर सवाल उठाते हुए पूछा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल महात्मा गांधी के शिष्य थे सो महात्मा गांधी की प्रतिमा क्यों नहीं बनाई गई. जिला कांग्रेस समिति कार्यालय में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि देश में महात्मा गांधी की इस तरह की कोई विशाल प्रतिमा नहीं है. उन्होंने पूछा,'महात्मा गांधी की सबसे बड़ी प्रतिमा संसद में है लेकिन उनके शिष्य के लिए 182 मीटर ऊंची प्रतिमा बनाना कितना जायज है. शशि थरूर ने कहा कि सरदार पटेल एक बहुत सरल व्यक्ति थे जो गांधी के शिष्य के रूप में जाने जाते थे मैं सो मैं एक सवाल पूछ रहा हूं..... क्या सादगी पसंद एक व्यक्ति और एक सच्चे गांधीवादी पटेल की इस तरह की भव्य प्रतिमा बनाया जाना ठीक है.


क्या सवाल उठाए शशि थरूर ने:
कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि बीजेपी के पास मेरे इस सवाल का जवाब नहीं है की उन्होंने भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की इतनी बड़ी प्रतिमा बनाने का निर्णय क्यों नहीं लिया, उन्होंने आरोप लगाया कि यही कारण है कि वे महात्मा गांधी के अहिंसा के सिद्धांतों में विश्वास नहीं करते. शशि थरूर यहीं नहीं रुके और भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी सिर्फ और सिर्फ स्वतंत्रता सेनानियों और पटेल जैसे राष्ट्रीय नायकों की विरासत को हाईजैक करने का प्रयास कर रही है.शशि थरूर ने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल एक कांग्रेस नेता थे और भारतीय जनता पार्टी को उन्हें अपनाने का कोई हक नहीं दिया जाएगा.


शशि थरूर को भारत आइडिया का जवाब:
भारत आईडिया कांग्रेस तथा शशि थरूर से यह सवाल पूछना चाहता है कि, क्या भारत को आजादी सिर्फ कांग्रेस ने दिलवाई है या फिर और भी व्यक्तियों का इसमें योगदान रहा था ? कांग्रेस ने भारत की आजादी को सिर्फ और सिर्फ एक परिवार की राजनीति बना कर रख दिया, पिछले 70 सालों में सरदार बल्लभ भाई पटेल को वह स्थान नहीं मिला जिसके वह हकदार थे? शशि थरूर पूछते हैं कि महात्मा गांधी की इतनी ऊंची प्रतिमा क्यों नहीं बनाई गई तो भारत आईडिया उनके इस बेतुके सवाल का जवाब देते हुए बताना चाहेगा कि महात्मा गांधी के नाम से पूरे भारतवर्ष में हजारों मार्ग, विद्यालय, विश्वविद्यालय तथा अनेकों चीजों में नामकरित है लेकिन सरदार पटेल के नाम से कुछ भी नहीं ऐसा क्यों? शायद सिर्फ इसलिए क्योंकि कांग्रेस सिर्फ और सिर्फ परिवारवाद की राजनीति करना जानती है.


संपादक : विशाल कुमार सिंह

Post a Comment

0 Comments