केंद्रशासित प्रदेश

केन्द्र शासित प्रदेश या संघ-राज्यक्षेत्र या संघक्षेत्र भारत के संघीय प्रशासनिक ढाँचे की एक उप-राष्ट्रीय प्रशासनिक इकाई है। भारत के राज्यों की अपनी चुनी हुई सरकारें होती हैं, लेकिन केन्द्र शासित प्रदेशों में सीधे-सीधे भारत सरकार का शासन होता है। भारत का राष्ट्रपति हर केन्द्र शासित प्रदेश का एक सरकारी प्रशासक या उप राज्यपाल नामित करता है।

वर्तमान में भारत में 8 केन्द्र शासित प्रदेश हैं।भारत की राजधानी नई दिल्ली जो कि दिल्ली नामक केन्द्र शासित प्रदेश भी था और पुदुचेरी को आंशिक राज्य का दर्जा दे दिया गया है। दिल्ली को राष्ट्रीय राजधानी प्रदेश-1992 के तौर पर पुनः परिभाषित किया गया है। दिल्ली व पुदुचेरी दोनो की अपनी चयनित विधानसभा, मंत्रिमंडल व कार्यपालिका हैं, लेकिन उनकी शक्तियाँ सीमित हैं - उनके कुछ कानून भारत के राष्ट्रपति के "विचार और स्वीकृति" मिलने पर ही लागू हो सकते हैं।

भारत में वर्तमान में निम्नलिखित केन्द्र शासित क्षेत्र हैं :-

  • दिल्ली 
  • अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह
  • चण्डीगढ़
  • दमन-द्वीप और दादरा एवं नगर हवेली (2019 के संविधान संसोधन के अनुसार)
  • लक्षद्वीप
  • पुदुचेरी
  • जम्मू और कश्मीर
  • लद्दाख़

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली - नई दिल्ली
सन् 1956 में दिल्ली को एक केंद्रीय क्षेत्र में बदल दिया गया , आज दिल्ली भारत का एक सबसे बड़ा मेट्रो शहर है और आबादी के आधार पर दुनिया का आठवां बड़ा हिस्सा है. दिल्ली के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र मे नोएडा, गुड़गांव, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद और गाजियाबाद शामिल हैं एवं दिल्ली में कई पर्यटक आकर्षण हैं जैसे कि ज़मीन के अंदर बना हुआ पालिका बाज़ार, भारत का अजूबा कमल मंदिर, जामा मस्जिद, अक्षरधाम मंदिर, लाल जैन मंदिर और दिल्ली का प्रशिद्ध सीमा चिन्ह द इंडिया गेट.

चंडीगढ़ - चंडीगढ़
चंडीगढ़ भारत का सबसे अच्छा और व्यवस्थित रूप से बसा हुआ शहर है, इसे भारत के हरे रंग का शहर भी कहा जाता है. चंडीगढ़, हरियाणा और पंजाब राज्य की राजधानी है. इसे भारत का पहला सुव्यवस्थित शहर माना जाता है.चंडीगढ़ के मुख्य आकर्षण है पत्थर का बाग,जापानी बाग और सुछना झील,शहर के पास मे एक पक्षी अभयारण्य भी स्थित है जो कि विभिन्न प्रकार की पक्षी प्रजातियों का घर है.

दमन और दीव - दमन
दमन और दीव केंद्र शासित प्रदेश भारत के पश्चिमी तट पर स्थित है, दमन शहर 72 किमी का क्षेत्रफल वाली राजधानी है. दमन और दीव भारत के अन्य केंद्र शासित प्रदेशों में दूसरा सबसे छोटा है. इसमें भारतीय और पुर्तगाली की मिश्रित संस्कृति है दमन और दीव अपने अनछुए और अन्वेषक प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है. प्रसिद्ध समुद्र तटों, पुर्तगाली चर्चों और दमन और दीव के किलों की यात्रा एक यादगार समय है!

दादरा और नगर हवेली - सिल्वासा
दादरा और नगर हवेली, महाराष्ट्र और गुजरात राज्यो के बीच स्थित है एक खूबसूरत झील वाला गार्डन, वांगंगा शहर के प्रवेश द्वार पर स्थित है. इसकी प्राकृतिक सुंदरता और सुखद माहौल के कारण, दादरा और नगर हवेली एक अवश्य भ्रमण करने वाली पर्यटन स्थलों मे से हैं.

पांडिचेरी - पुडुचेरी
पांडिचेरी या पुडुचेरी, भारत के पूर्वी घाट पर स्थित है। यह एक पूर्व फ्रेंच कॉलोनी थी आज पोंडिच्चेरी दक्षिण भारत के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है. पुडुचेरी में समुद्र तट और चर्च सबसे लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण हैं. यह दक्षिण भारत में शैक्षणिक केंद्रों में से भी एक है.

लक्षद्वीप - कावरत्ती
लक्षद्वीप, क्षेत्र के साथ साथ आबादी के मामले में भी भारत का सबसे छोटा केंद्र शासित प्रदेश है. लक्षद्वीप केरल के तट के पास स्थित सागर में स्थित है तथा कावरत्ती एक सबसे बड़ा शहर और राजधानी है! लक्षद्वीप भारत का एक सबसे अच्छा पर्यटन स्थान और प्राकृतिक सुंदरता से भरा हुआ है। मूंगा-चट्टान, समुद्री जीवन और समुद्र तट इसकी एक अलग पहचान बनाते है जिसके कारण यह भारत में एक सबसे अच्छा हनीमून गंतव्य बन गया है.

अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह - पोर्ट ब्लेयर
अंडमान और निकोबार हिंद महासागर में स्थित द्वीप समूह हैं. अंडमान और निकोबार को एक चैनल से विभाजित किया जाता है. ये द्वीप एक अद्वितीय उष्णकटिबंधीय सदाबहार जंगल से धन्य हैं. ब्रिटिशों ने इस द्वीप को एक अलग जेल के रूप में इस्तेमाल किया, जो भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों के लिए कला पानी के रूप में जाना जाता है.द्वीपों के स्थानीय लोग अब भी अपने अलग-अलग अस्तित्व को बनाए हुए हैं, इन भारतीय जनजातियों को जारवा और ग्रेट अंडमानी के नाम से जाना जाता है. पोर्ट ब्लेयर सबसे बड़ा शहर और द्वीप की राजधानी है और एक बहुत ही आकर्षक शहर है, मुख्य घूमने वाली जगह है हॅव्लॉक आइलॅंड, राधा नगर तट और सेंटरल जेल.

लद्दाख
लद्दाख अब एक केंद्र शासित प्रदेश है जिसका क्षेत्रफल 97,776 वर्ग किलोमीटर है, यहाँ की जलवायु अत्यंत शुष्क एवं कठोर है लेकिन यहा चकित कर देने वाला सौन्दर्य और प्रकृति है! लद्दाख की जलवायु अत्यंत शुष्क एवं कठोर है और यहाँ सिंधु मुख्य नदी है एवं यहाँ की अधिकांश जनसंख्या घुमक्कड़ है!

जम्मू और कश्मीर

जम्मू और कश्मीर उत्तर में स्थित अब एक केन्द्र-शासित प्रदेश है और लद्दाख को भी जम्मू कश्मीर से अलग करके अलग केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया है। जम्मू कश्मीर और लद्दाख विभाजन के बाद दो नए केन्द्र शासित क्षेत्र के रूप में अस्तित्व में आए!