सत्य सनातन धर्म के लोग वो गलती जो वो हमेशा करते है, सुधारे और बने धर्म प्रेमी , पढ़े रिपोर्ट

धर्म के प्रति जागृति, धर्म को जानना,  समझना फिर अपने जीवन में उसको जीना काफी कठिन होता है। हम अपने जीवन काल में अपने धार्मिक पुस्तकों से तो काफी दूर हो ही चुके हैं, अपितु साथ-साथ हम पर पश्चिमी सभ्यता तथा बॉलीवुड का ऐसा असर पड़ा है कि हमने अपने मूल आधार तथा जड़ों को कहीं खो सा दिया है। सत्य सनातन धर्म जहां एक तरफ सबसे पुराना धर्म है, तो वही आज के वर्तमान काल में जो भी लोग इस धर्म से नाता रखते हैं - वह अपने धर्म को जानने की कोशिश तो छोड़िए बल्कि उसका मजाक बनाते हैं। हमने अक्सर देखा है की जहां एक तरफ अन्य धर्मों में लोग अपने धर्म को लेकर जागरूक हैं तथा अपने धार्मिक पुस्तकों को लेकर के भी उतने ही निष्ठावान हैं जितना अपने धर्म के लिए। एक स्टडी कहती है कि क्रिश्चियनिटी में 100 में से 90 लोग बाइबल पढ़ते हैं, इस्लाम में 100 में से 95 लोग कुरान पढ़ते हैं, लेकिन वही सत्य सनातन धर्म में हमारा मूल ग्रंथ श्रीमद्भागवत गीता 100 में से दो से तीन सत्य सनातन प्रेमी पढ़ता है। बहरहाल जो भी हो नीचे के पोस्ट में हमने कुछ गलतियांको सही करके बताया है सत्य सनातन प्रेमियों के लिए जिसको वह अपने जीवन में उतार कर एक छोटा सा आधार बना सकते हैं अपने धर्म के प्रति प्रेम के लिए।




यहां पढ़े पोस्ट :-




ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
  





आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


Reactions