• ताज़ा खबर

    बंगाल में बिगड़ती जा रही है स्थिति, ममता बैनर्जी ने अब बेंगौली कार्ड खेल उठाया ये बरा मुद्दा




    नमस्कार दोस्तों आप सबका स्वागत है भारत आइडिया के इस  नए संस्करण के समाचार लेख में। भारत आइडिया के पाठकों आज इस लेख में हम बंगाल की बिगड़ती हालत पर चर्चा करेंगे और जानेंगे की इस नाजुक स्थिति में भी ममता कैसे बेंगाली कार्ड खेल रही है ।

    समाचार पढ़ने से पहले एक गुजारिस है, हमारे फेसबुक पेज को  लाइक कर हमारे साथ जुड़े। 



    पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की पिटाई से  स्थिति और बिगड़ी 
    पश्चिम बंगाल में स्थिति बिगड़ती ही जा रही है। वहीं, बिगड़ती स्थिति को संभालने की जगह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी राजनीति को चमकाने में जुटी हुई हैं। राज्य चुनाव के बाद से जारी हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। मुख्यमंत्री राज्य में व्याप्त अशांति के लिए भारतीय जनता पार्टी व गृह मंत्री अमित शाह को जिम्मेदार ठहरा रही हैं। हकीकत यह है कि राज्य पुलिस की बागडोर हाथ में होने के बाद भी ममता बनर्जी स्थिति को संभालने में नाकाम साबित हो रही हैं। इसी बीच डाक्टरों की पिटाई के मामले ने एक नया बखेड़ा शुरू कर दिया है।राज्य के डाक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। डाक्टर सुरक्षा गारंटी की मांग कर रहे हैं तो राज्य सरकार की ओर से उन पर कार्रवाई की बात कही जा रही है। 

    डाक्टरों को काम पर लौटने का आदेश दिया जा रहा है। ऐसे में बंगाल के डाक्टरों के समर्थन में दिल्ली के भी डाक्टर भी सामने आ गए हैं। उन्होंने भी विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। 



    केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा. हर्षवर्द्धन से मुलाकात की 
    केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा. हर्षवर्द्धन से मुलाकात कर एम्स के रेसिडेंट डाक्टरों ने बंगाल में डाक्टरों की सुरक्षा का मामला उठाया। ममता सरकार के रवैये से नाराज नॉर्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज के 119 डॉक्टरों के अब तक इस्तीफा देने की सूचना है।डा. हर्षवर्द्धन ने कहा है कि बंगाल के डाक्टरों को पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई जाएगी। उन्हें काम पर लौटना चाहिए, ताकि मरीजों को इलाज कराने में दिक्कत न हो। 

    ममता बैनर्जी ने खेला बेंगली कार्ड दिये ये बयान 
    ममता बनर्जी ने इसी बीच बांग्ला कार्ड खेल दिया है। उन्होंने कहा है कि मैं बिहार, उत्तर प्रदेश, पंजाब, दिल्ली आदि जगहों पर जाती हूं तो वहां की भाषा में बात करती हूं। बंगाल में आकर लोग बांग्ला में क्यों नहीं बात करते। मैं बाहरी अपराधियों को बंगाल में मोटरसाइकिल पर घूमने नहीं दूंगी। यहां का माहौल खराब करने की कोशिश नहीं करने दूंगी। अब ममता बनर्जी के इस बयान पर हंगामा मचना तय है।





    आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे।