Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

बारहवीं पास को कमलनाथ ने मध्यप्रदेश में दिया वित्त मंत्रालय, अब उठ रहे है सवाल.

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में तो दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कांग्रेस के बारे में जहां एक तरफ कांग्रेस कह रही है कि मध्य प्रदेश का सरकारी खजाना खाली हो चुका है तो वहीं पर कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में एक महत्वपूर्ण मंत्रालय, वित्त मंत्रालय 12वीं पास मंत्री को दिया है तो आइए जानते हैं क्या है पूरी खबर.


क्या है खबर :
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नवगठित मंत्रिमंडल के सदस्यों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया है. सबसे अहम माना जाने वाला वित्त मंत्रालय 12वीं क्लास तक पढ़े मंत्री तरुण भनोट को सौंपा है. इसको लेकर कांग्रेस सरकार की किरकिरी हो रही है. राज्य की जबलपुर पश्चिम सीट से लगातार दूसरी बार विधायक तरुण भनोट साइंस ग्रुप से 12वीं पास हैं और इंजीनियरिंग ड्राप आउट हैं.कांग्रेस विधायक तरुण ने 1992 में पंडित रविशंकर शुक्ल विश्विद्यालय में बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (बीई) के कोर्स में बाहरवीं पास करने के बाद दाखिला लिया था, लेकिन दो साल में ही कॉलेज छोड़ दिया, जबकि बीई की पढ़ाई 4 साल में पूरी होती है.


पहले के मंत्रियों के थे क्या हाल :
इससे पहले की सरकार में वित्त मंत्री रहे बीजेपी नेता जयंत मलैया बैचलर ऑफ कॉमर्स (बी. कॉम) और वकालत की डिग्री ले चुके थे. उनसे पहले वित्त महकमा संभालने वाले मंत्री राघवजी भी मास्टर ऑफ कॉमर्स (एम. कॉम) तक पढ़े-लिखे थे.  यहां आपको बता दें कि कमलनाथ कैबिनेट के 28 मंत्रियों  में से 22 ग्रेजुएट और 5 बारहवीं तक पढ़े-लिखे हैं. वहीं,  एक ने पॉलिटेक्निक में डिप्लोमा किया है. इनमें सबसे अधिक शिक्षित एक मात्र मुस्लिम मंत्री आरिफ अकील हैं.


इन मंत्रियों को मिले ये विभाग :
हुकुम सिंह कराड़ा – जल संसाधन विभाग
डॉ. गोविंद सिंह – सहकारिता विभाग, संसदीय कार्य विभाग
आरिफ अकील – भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक विभाग
बृजेन्द्र सिंह राठौर – वाणिज्यिक कर विभाग
प्रदीप जायसवाल – खनिज साधन विभाग
सुखदेव पांसे – लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग
कमलेश्वर पटेल – पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग
Breaking News
Loading...
Scroll To Top