भारत के मुस्लिम राम के वंशज, मंदिर का विरोध ना करें.



नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में तो दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं गिरिराज सिंह के बारे में जिन्होंने यह कहा है कि भारत के मुस्लिम राम के वंशज हैं तो मुस्लिम मंदिर का विरोध न करें.

भारत के मुस्लिम राम के वंशज, मंदिर का विरोध ना करें.


क्या है मामला:
जी हां दोस्तों आपने सही सुना यह बयान गिरिराज सिंह ने दिया है, जैसा कि आप सब को पता है कि, अपनी बयानों की वजह से गिरिराज सिंह हमेशा सुर्खियों में रहते हैं. रविवार को भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बयान दिया जिस पर अब विवाद खड़ा हो गया है दरअसल गिरिराज जी ने कहा की भारत में जितने भी मुसलमान हैं वह सभी प्रभु श्री राम के वंशज हैं ना कि मुगलों के, सो मुसलमान मंदिर का विरोध ना करें.




उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं गिरिराज सिंह :
गिरिराज सिंह अभी उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं, शो उत्तर प्रदेश के बागपत में विराज सिंह ने कहा कि मुस्लिम लोग राम मंदिर का विरोध ना करें, जो राम मंदिर का विरोध कर रहे हैं वह भी समर्थन में आ जाए वरना उनसे हिंदू नाराज हो जाएंगे और मुस्लिमों से नफरत करने लगेंगे और अगर यह नफरत ज्वाला में बदल गई तो मुस्लिम सोचे फिर क्या होगा.




जनसंख्या पर क्या कहा गिरिराज सिंह ने :
गिरिराज सिंह ने कहा कि राम मंदिर जरूर बनना चाहिए, राम मंदिर नहीं बना तो यह लाइलाज हो जाएगा.आपको बता दें कि उनकी राजसी जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के बैनर तले आयोजित जनसंख्या नियंत्रण कानून रैली को संबोधित करने पहुंचे थे. जनसंख्या पर बात करते हुए गिरिराज सिंह ने कहा की हिंदुओं की आबादी लगातार कम हो रही है और जहां हिंदुओं की आबादी कम हो रही है वहां उनकी आवाज दबा दिया जाता है.


धर्म के लिए पार्टी भी छोड़ सकता हूं :
गिरिराज सिंह की गर्जन यहीं नहीं रुकी, आगे उन्होंने कहा मैं सनातन धर्म के लिए भाजपा मंत्री पद व सांसद ही छोड़ सकता हूं उनकी मेरा धर्म ही मेरे लिए सर्वोपरि है.


संपादक : विशाल कुमार सिंह

Post a Comment

0 Comments