आजम खान बोले मैं भाजपा का आइटम गर्ल.

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में, तो दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं सपा नेता आजम खान के बारे में जो हमेशा आपने बरबोले पन के लिए जाने जाते हैं और इस बार उन्होंने कुछ ऐसा बोला है जिसको सुनकर आपको हंसी आ सकती है.
आजम खान बोले मैं भाजपा का आइटम गर्ल.

क्या है मामला:
दोस्तों आपको बता दें कि अपने बयानों के लिए अक्सर सुर्खियों में रहने वाले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आजम खान ने बुधवार को कहा कि वह बीजेपी के राजनीतिक आइटम गर्ल है, समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने कहा कि इस पार्टी ने उनके नाम पर उत्तर प्रदेश का पिछला विधानसभा चुनाव लड़ा था और अब उनके नाम पर आदमी लोकसभा चुनाव लड़ेगी. भाजपा ने आजम खान की इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जारी करते हुए कहा है कि आजम खान को इसके लिए माफी मांगना चाहिए उन्होंने अभद्र शब्द का इस्तेमाल किया है और वह उनकी सोच को दर्शाता है.


एक बैठक के दौरान आजम खान ने दिए यह बयान:
आपको बता दें कि माश्वरती काउंसिल की विशेष बैठक में समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान शामिल हुए थे और वही पर संवाददाताओं से बातचीत के दौरान आजम खान ने खुद को भाजपा का आइटम गर्ल बताया और कहा कि भाजपा सारे चुनाव मेरे नाम पर जितना चाहती है जैसे पिछला विधानसभा चुनाव भाजपा ने मेरे नाम पर जीता था वैसे ही अगला लोकसभा चुनाव भाजपा मेरे नाम पर जितना चाहती है. आजम खान ने कहा मेरा तो यह हाल कर दिया है कि मुझे खुद नहीं पता मेरे ऊपर कितने मुकदमे दर्ज किए गए हैं, मेरे नाम से इतने वारंट जारी कर दिए हैं कि मुझे उन वारंट के लिए हर जगह पैरवी करना पड़ता है.


आजम खान के अनुसार उनके पास कोई संपत्ति नहीं: आजम खान ने दावा किया है कि उनके पास कोई संपत्ति नहीं है, खान के अनुसार उनका सिर्फ एक बैंक खाता है जो विधान भवन में स्थित एसबीआई की शाखा में है और इसके सिवाय अगर देश के किसी भी बैंक में उनका कोई खाता मिल जाए तो उनको कुतुब मीनार पर फांसी दे दी जाए. आजम खान का कहना है कि भाजपा दलितों पिछड़ों और कमजोरो को समाज में नीचे करते जा रही है.


राम मंदिर पर क्या कहना है आजम खान का:
राम मंदिर पर सवाल पूछे जाने पर सपा नेता आजम खान ने कहा कि राम मंदिर का मामला उच्चतम न्यायालय में है और उसका आदेश सबसे ऊपर होना चाहिए, आजम खान ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद तोड़ी गई तब किसी मुस्लिम संगठन ने कोई विरोध नहीं किया अगर बीजेपी राम मंदिर बनाना चाहती है तो बनाएं विरोध की चिंता छोड़ दे आपको जो करना है करें लेकिन देश को गुमराह ना करें.


संपादक : विशाल कुमार 

Post a Comment

0 Comments