1 नवंबर से एलपीजी गैस सिलेंडर की डिलीवरी का नियम पूरी तरह से बदलने वाला है, अभी जान ले नियम

आपको बता दें कि आप जो एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी अपने घर पर करवाते थे उसकी प्रक्रिया अब पहले जैसी नहीं होगी, क्योंकि कंपनी अगले महीने से सिलेंडर की डिलीवरी सिस्टम में बदलाव करने जा रही है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 1 नवंबर से डॉमेस्टिक सिलेंडर की चोरी रोकने और सही कस्टमर की पहचान करने के लिए कंपनी ने यह फैसला किया है. 
 


रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर कोड के जरिए होगी बुकिंग:-
कंपनी द्वारा इस सिस्टम को डीएसई नाम दिया जा रहा है. जिसका मतलब है डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड. आपको बता दें कि अब सिर्फ बुकिंग करा लेने भर से आपके घर पर सिलेंडर की डिलीवरी नहीं होगी बल्कि इसके लिए आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एक कोड भेजा जाएगा और उस कोड को जब तक आप डिलीवरी ब्वॉय को दिखाकर वेरीफाई नहीं करेंगे तब तक सिलेंडर की डिलीवरी आपके घर पर नहीं की जाएगी. हालांकि अगर कोई कस्टमर ऐसा भी है जिसने डिस्ट्रीब्यूटर का मोबाइल नंबर अपडेट नहीं कराया है तो डिलीवरी बॉय के पास एक ऐप होगा जिसके जरिए आप रियल टाइम में अपना नंबर अपडेट करवा सकते हैं और कोड जनरेट करके अपने घर पर गैस की डिलीवरी करवाई जा सकती है.



इस सिस्टम को सबसे पहले 100 स्मार्ट सिटी में लागू किया जाएगा:-
ऐसे में उन कस्टमर्स की मुश्किलें बढ़ जाएँगी जिनका एड्रेस गलत और मोबाइल नंबर गलत हैं तो इस वजह से उन लोगों की सिलेंडर की डिलीवरी रोकी जा सकती है.तेल कंपनियां इस सिस्टम को पहले 100 स्मार्ट सिटी में लागू करने वाली हैं. इसके बाद बाकि धीरे-धीरे दूसरी सिटी में भी लागू कर सकती हैं. जयपुर में इसका पायलट प्रोजेक्ट पहले से चल रहा है. 95 फीसदी से ज्यादा इस प्रोजेक्ट का सक्सेस रेट तेल कंपनियों को मिला है. बता दें कि ये सिस्टम कमर्शियल सिलेंडर पर लागू नहीं होगा सिर्फ डोमेस्टिक के लिए ये रूल्स लागू किये जाएंगे.


ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


Reactions