ट्रंप ने कहा ज्यादा कोरोना के मामले गर्व की बात, बेतुका बयान में कहा टेस्ट की संख्या घटानी होगी

कोरोना वायरस की चपेट में पूरा विश्व आ चुका है. अमेरिका में भी लोग संक्रमण की वजह से लगाये गए लॉकडाउन से परेशान हो रहे हैं और डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के क्रियाकलापों की आलोचना कर रहे हैं.  पिछले कुछ समय से पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर नाराज हैं और उनकी आलोचना कर रहे हैं. स्वभाववश डोनाल्ड ट्रंप बहुत जल्दी उत्तेजित होने वाले नेताओं में गिने जाते हैं. सियासी आलोचना से गुस्साए डोनाल्ड ट्रंप अजीबोगरीब बयान दिया है.



क्या कहा ट्रंप ने :-
कि देश में कोरोना संक्रमण दुनिया में सबसे ज्यादा होना सम्मान की बात है. उन्होंने व्हाइट हाउस में कहा कि जब आप कहते हैं कि हम संक्रमण के मामलों में आगे हैं तो मैं इसे बुरा नहीं मानता. इसका मतलब है कि हमने किसी और से कहीं ज्यादा टेस्टिंग की है. यह अच्छी बात है, क्योंकि इससे पता चलता है कि हमारी टेस्टिंग बेहतर है. मैं इसे एक ‘सम्मान के तमगे’ के तौर पर देखता हूं.

साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने शनिवार को कहा कि उन्होंने रिस्पॉन्स वर्कर्स से टेस्टिंग कम करने को कहा है क्योंकि ज़्यादा टेस्ट करने से ज़्यादा मामले आएंगे। बकौल ट्रंप, अमेरिका 2.5 करोड़ टेस्ट कर चुका है जो बाकि देशों से कहीं ज़्यादा है। वाइट हाउस के एक अधिकारी ने कहा कि ट्रंप टेस्टिंग घटाने को लेकर मज़ाक कर रहे थे।

ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
  





आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


Reactions