फरीदाबाद में व्यक्ति की हुई थी हत्या, कोरोना पीड़ित समझकर किया अस्पताल ने किया अंतिम संस्कार

पुलिस ने बताया है कि फरीदाबाद में शुक्रवार को एक 28-वर्षीय शख्स की चाकू घोंपकर हत्या कर दी गई थी और उसे कोरोना पीड़ित समझकर उसके शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। बतौर पुलिस, शव को पोस्टमॉर्टम के लिए बीके अस्पताल की मोर्चरी में रखा गया था, जिसे अंतिम संस्कार के लिए नगर निगम को सौंप दिया गया।



बीते शुक्रवार को हुई थी हत्या :-
बीते शुक्रवार को यहां सोनू खान नाम एक य़ुवक की हत्या हो गई थी। मर्डर के बाद शव को यहां के सिविल अस्पताल के शवगृह में पोस्टरमार्टम के लिए रखा गया था। शनिवार की सुबह जब मृतक के परिजन पोस्टरमार्टम की प्रक्रिया पूरी कराने यहां पहुंचे तो मोर्चरी से सोनू खान का शव गायब था।कोरोना से मौत समझ करा दिया अंतिम संस्कार: मोर्चरी में काफी तलाशने के बाद भी सोनू खान का शव नहीं मिलने पर उनके परिजन अवाक रह गए। उन्होंने तुरंत इसकी शिकायत अस्पताल के चिकित्सकों से की। हालांकि मोर्चरी से शव गायब होने की बात पता चलने के बाद चिकित्सक अस्पताल से गायब हो गए।

जिसके बाद मृतक के परिजनों का कहना है कि प्रबंधन की लापरवाही के चलते हत्या के मामले में पोस्टमार्टम के लिए आए शव को किसी दूसरे व्यक्ति का शव समझकर नगर निगम के हवाले कर दिया गया, जिन्होंने कोरोना पॉजिटिव समझ कर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया।


ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
  





आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


Reactions