Report : दिल्ली विधानसभा चुनाव के हार के बाद क्या होगा मनोज तिवारी का राजनीती भविष्य?

  • मनोज तिवारी को 48 सीट जितने की थी उम्मीद। 
  • दिल्ली चुनाव में हार के बाद ली जिम्मेदारी। 
  • बीजेपी आला कमान को भेजा अपना स्तीफा। 
  • मनोज तिवारी अध्यक्ष के रूप पूरा कर चुके है अपना कार्यकाल 
  • मिल सकती है केंद्र में बरी जिम्मेदारी 


मनोज तिवारी ने की इस्तीफे की पेशकश :
दिल्ली विधानसभा चुनाव में पार्टी के खराब प्रदर्शन की पूरी जिम्मेदारी लेते हुए दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मंगलवार को कहा कि भविष्य में पार्टी में उनकी भूमिका पार्टी का आतंरिक मामला है. पिछले साल लोकसभा चुनाव और 2017 के निकाय चुनाव में दिल्ली भाजपा का नेतृत्व कर जीत दिलाने वाले तिवारी अग्निपरीक्षा में सफल नहीं हो पाए और उनकी पार्टी को दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के हाथों करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है, और अब ये खबर आ रही है की दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के खराब प्रदर्शन के बाद प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस्तीफे की पेशकश की है. हालांकि, बीजेपी आलाकमान ने मनोज तिवारी को पद पर बने रहने के लिए कहा है. मनोज तिवारी ने दिल्ली में 48 सीटें जीतने का दावा किया था, लेकिन बीजेपी को महज 8 सीटें मिली हैं.




बीजेपी आलाकमान ने ठुकराई इस्तीफे की पेशकश :

सूत्रों की माने तो बीजेपी आलाकमान ने मनोज तिवारी के इस्तीफे की पेशकश को इसलिए ठुकरा दिया, क्योंकि दिल्ली में विधानसभा चुनाव के चलते बीजेपी के संगठन के चुनाव को टला गया था. अब संगठन चुनाव के बाद नए प्रदेश की नियुक्ति होगी. हार के बाद ही मनोज तिवारी ने जिम्मेदारी ली थी और कहा था कि मेरा सीना तैयार है.दिल्ली की प्रत्येक लोकसभा सीट में दस विधानसभा क्षेत्र होते हैं. दिल्ली भाजपा अध्यक्ष का कार्यकाल तीन साल का होता है और तिवारी अध्यक्ष पद पर यह अवधि पूरी कर चुके हैं और उनका कार्यकाल विस्तारित कर दिया गया था. पार्टी सूत्रों का कहना है कि तिवारी की जगह किसी नए चेहरे को मौका दिया जा सकता है और उन्हें केंद्र सरकार या पार्टी में कोई अन्य जिम्मेदारी दी जा सकती है.




क्यों हो रही है सोशल मीडिया पर मनोज तिवारी की फजीहत :
रअसल, दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर किए गए तमाम एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी के हाथों में सत्ता जाती दिख रही थी और बीजेपी को झटका लगने वाला अनुमान जताया गया था. इसके बाद दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और उत्तर पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने एग्जिट पोल के दावों को खारिज करते हुए कहा था कि हमारे ट्वीट को संभाल के रख लीजिए, सभी एग्जिट पोल फेल होंगे.

मनोज तिवारी ने ट्वीट किया था, ''ये सभी एग्ज़िट पोल होंगे fail...मेरी ये ट्वीट सम्भाल के रखियेगा...बीजेपी दिल्ली में 48 सीट लेकर सरकार बनायेगी .. कृपया EVM को दोष देने का अभी से बहाना ना ढूँढे.''

इतना ही नहीं वोटों की गिनती से पहले दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मीडिया से बात की थी और कहा था कि मैं नर्वस नहीं हूं, बीजेपी के दफ्तर में जश्न की तैयारियां शुरू हो गई हैं. उन्होंने कहा कि हम सत्ता में आ रहे हैं और हैरानी नहीं होगी अगर हम 55 सीट जीत जाएं.गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के मंगलवार को आए नतीजों में 'आप' ने 70 विधानसभा सीटों में से 62 सीटों पर जीत दर्ज की. विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने बाकी के 8 सीटों पर कब्जा जमाया वहीं कांग्रेस खाता नहीं खोल पाई





Reactions