Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

आखिर क्यों धोनी भिखारी पाकिस्तान के बशीर चाचा को फ़्री में हर मैच का टिकट देते है ?




नमस्कार दोस्तों आप सबका स्वागत है भारत आइडिया के इस  नए संस्करण के समाचार लेख में। भारत आइडिया के पाठकों आज इस लेख में हम जानेंगे कि आखिर क्यूं धोनी भिखारी पाकिस्तान के बशीर चाचा को फ्री में हर मैच का टिकट क्यों देते है। 

समाचार पढ़ने से पहले एक गुजारिस है, हमारे फेसबुक पेज को  लाइक कर हमारे साथ जुड़े। 



दोस्तों आपको बात दे की वर्ल्ड कप में इंडिया और पाकिस्तान के बीच रविवार को मैच होने वाला है। ये किसी को बताने की जरूरत नहीं की इंडिया-पाकिस्तान का ये सबसे बड़ा मैच है। दोस्तों वही इस मैच को देखने के लिए लोगो में उत्साह और भी है। इस बीच बताते चले रविवार को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर होने वाला है।वहीं दोस्तों मैदान से बाहर कई ऐसे किस्से हैं, जो भारत-पाक मैच को भी बाकी मैचों की तरह ही सहज बनाते हैं। दोस्तों एक ऐसा ही किस्सा पाकिस्तान में पैदा हुए मोहम्मद बशीर और धोनी से जुड़ा है।

पाक के मोहम्मद बशीर 16 जून को होने वाले भारत-पाक मैच को देखने के लिए 6000 KM की यात्रा कर मैनचेस्टर पहुंच चुके हैं, बशीर को लोग ‘चाचा शिकागो’ के नाम से भी जानते हैं।



दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी और कराची में जन्मे मोहम्मद बशीर के बीच रिश्ता भारत-पाकिस्तान 2011 विश्व कप सेमीफाइनल के दौरान शुरू हुआ था और तब से यह मजबूत ही होता चला गया।आपकी जानकारी के लिए बता दे की 2011 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मुकाबले में बशीर चाचा को इस मैच का टिकट नहीं मिल पाया।दोस्तों जब ये बात धोनी को पता चली तो उन्होंने बशीर चाचा को बुलाकर मैच का टिकट दिया। बशीर चाचा धोनी के व्यवहार से इतने प्रभावित हुए कि उसके बाद से जब भी भारत-पाकिस्तान का मैच होता है, तो वे भारत की हौसलाअफजाई करते हैं।

बशीर चाचा ने एक इंटरव्यू में कहा धोनी ने कभी निराश नहीं किया, बशीर ने कहा, ‘‘मैं उन्हें फोन नहीं करता। वे बहुत व्यस्त रहते हैं, मैं केवल मैसेज के जरिए उनसे संपर्क करता हूं, यहां आने से पहले धोनी ने मुझे टिकट का आश्वासन दिया, वे एक महान इंसान





आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 



Breaking News
Loading...
Scroll To Top