कौन है वो सख्स जिसने सपथ ग्रहण के दिन मंत्रियों के नाम पुकारे थे, मोदी के करीबी और ईमानदारी की है मिशाल।




राष्ट्रपति भवन के विशाल प्रांगण में जब मोदी सरकार 2.0 के मंत्री एक-एक करके शपथ ले रहे थे तो क्रीम कलर का सूट पहने हुए एक शख्स बार-बार मंत्रियों के नाम पुकार रहे थे, फिर मुस्कराते हुए हर बार हौले से पीछे हट जा रहे थे. जब तक मंत्रियों की शपथ चलती रही वो यही करते रहे.टीवी पर उन्हें पूरे देश ने देखा. कौन हैं ये शख्स. कई के जेहन में ये सवाल उभरा भी होगा कि ये कौन हैं जो राष्ट्रपति के करीब खड़े होकर बार-बार मंत्रियों के नाम बुला रहे हैं. ये और कोई नहीं बल्कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सचिव हैं. इनका नाम है संजय कोठारी. वो 1978 बैच के आईएएस अफसर हैं. 2016 में रिटायर होने के एक साल बाद उनकी इस पद पर नियुक्ति हुई.



संजय कोठारी हरियाणा कैडर के आईएएस अफसर थे, जिन्होंने केंद्र और राज्य में कई पोजीशन में काम किया. वो उन अफसरों में रहे हैं, जिन्होंने हरियाणा में काफी तारीफ पाई. हरियाणा के जिस भी इलाके में उनकी नियुक्ति शुरू में एसडीएम या फिर कलेक्टर के रूप में हुई, वहां आमतौर पर अवैध काम बंद हो जाया करते थे. उन्हें कड़क अफसर के रूप में जाना जाता था.वो जब आईएएस के कार्यकाल से रिटायर हुए, उस समय वो कार्मिक विभाग में सचिव थे. उन्हें लंबा प्रशासनिक अनुभव है. जिस समय उनकी नियुक्ति हुई, उनकी नियुक्ति संबंधी कमेटी की अगुआई प्रधानमंत्री कर रहे थे, जिन्होंने उनकी नियुक्ति पर मुहर लगाई.




कहा जाता है जब 2014 में नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने और उन्होंने आईएएस अधिकारियों की मीटिंग बुलाई, उसमें संजय कोठारी ने उन्हें प्रभावित किया था. इसके कुछ समय बाद वो डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग के सचिव बनाए गए.संजय के समय में ही डीओपीटी ने गजटेड अधिकारियों द्वारा अटेस्टेशन की प्रक्रिया को खत्म कर सेल्फ अटेस्टेशन को शुरू किया था. जिससे बड़ी संख्या में प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले और उसके बाद नियुक्ति पाने वाले प्रतियोगियों ने राहत की सांस ली थी.




Reactions