Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

चिंताजनक: माउंट एवरेस्ट पर लगातार बढ़ता जा रहा है कचरे का अंबार / Worrying:pollution is increasingly growing on the Mt Everest


आज हम बात करने जा रहे हैं माउंट एवरेस्ट पर बढ़ते कचरों के बारे में जो कि धीरे-धीरे बढ़ते ही जा रहा है।

दशकों से जारी व्यवसायिक पर्वतारोहण के कारण दुनिया की सबसे ऊंची पर्वत चोटी माउंट एवरेस्ट कचरे के ढेर में तब्दील होते जा रही है।
एंड मंड हिलेरी और तेनजिंग माउंट एवरेस्ट का सफल आरोहण करने वाले पहले लोग थे।

वीडियो में देखिये कितनी होशियारी से पेरो को बचाया जा रहा है। 

उन्होंने ६५ साल पहले माउंट एवरेस्ट पर फतह हासिल की थी। माउंट एवरेस्ट पर जाने वाले पर्वतारोहियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है।

इस साल कम से कम ६०० लोग अब तक इस चोटी तक पहुंच चुके हैं।


पर्वतारोहियों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ वहां कचरे की मात्रा भी बढ़ती जा रही है।
टनों कचरा वहां पड़ा हुआ है, जो समय बीतने के साथ और ज्यादा ही होता जा रहा है।

संपादक:आशुतोष उपाध्याय
Breaking News
Loading...
Scroll To Top