Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

जगन्नाथ पुरी मंदिर में माहौल स्वच्छ नहीं: सुप्रीम कोर्ट/Jagannath Puri temple is not clean: Supreme Court

आज हम बात करने जा रहे हैं, उड़ीसा में जगन्नाथ पुरी मंदिर में इस वर्ष माहौल स्वच्छ नहीं है, ऐसा कहना है सुप्रीम कोर्ट का:




उड़ीसा के जगन्नाथ पुरी मंदिर में श्रद्धालुओं से दुर्व्यवहार और अन्य दिक्कतों पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को गंभीरता दिखाई।

जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा,' मंदिर का माहौल इतना स्वच्छ नहीं है, जितना होना चाहिए। वहां अतिक्रमण और लापरवाही है।
इससे पर्यटन ,संस्कृति और समाज प्रभावित हो रहे हैं। भगवान जगन्नाथ की वार्षिक रथ यात्रा से ऐन पहले कोर्ट ने मंदिर की व्यवस्था को लेकर कई निर्देश जारी किए।

दुर्व्यवहार रोकने और व्यवस्था सुधारने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने जिला, राज्य और केंद्र के स्तर पर तीन कमेटियां बनाने का निर्देश दिया है।

इनकी रिपोर्ट के आधार पर ५ जुलाई को अगली सुनवाई होगी ।इससे पहले याचिकाकर्ता*, मृणालिनी ने कहा कि मंदिर के खजाने की चाबी गुम होने के बाद सेवक चढ़ावे का दुरुपयोग कर रहे हैं।


इसमें केंद्र सरकार का यह निर्देश रहा कि:
जगन्नाथ मंदिर में जो समस्याएं हैं, वह देश भर में अन्य धर्म स्थलों पर भी श्रद्धालुओं को होती होगी।इससे निपटने के लिए कहा क्या व्यवस्था है, कमेटी बनाकर अध्ययन करें कमेटी ५ बेहतरीन तरीके सुझाएगी। जो जगन्नाथ मंदिर में लागू किए जा सकते हो।

संपादक: आशुतोष उपाध्याय


Breaking News
Loading...
Scroll To Top